विटामिन ए फायदे,स्त्रोत,नुकसान (पूरी जानकारी )-Source Of Vitamin A in Hindi

क्या है विटामिन ए – Vitamin A In Hindi

विटामिन ए वसा में घुलनशील विटामिन है जिस का रासायनिक नाम रेटिनोल है जो हमारी आंखों की सेहत के लिए बहुत ही उपयोगी हैं यह हमारे आंखों के रेटिना और हमारे इम्यून सिस्टम को मजबूत बनाए रखता है। इसके मूल पदार्थ बेटा कैरोटीन हैं जो प्रो-विटामिन के नाम से भी जाने जाते हैं।

Structure Of Vitamin A

Vitamin A structure
Source

यह हमारे शरीर में कहां मिलता है

क्योंकि यह एक वसा में घुलनशील विटामिन है इसलिए जब हमारा शरीर भोजन से विटामिन बनाता है तो यह हमारे शरीर की कोशिकाओं की वसा में जमा हो जाता है क्योंकि कोशिकाओं की के साथ जुड़ चर्बी से बनी होती हैं इसलिए यह चर्बी में लंबे समय तक स्टोर रहता है और शरीर की संरचना करने में मदद करता है

Read Also – विटामिन क्या है (पूरी जानकारी) What is Vitamin In Hindi

विटामिन ए के कार्य और लाभ – Benefits Of Vitamin A In Hindi

वैसे तो विटामिन हमारे शरीर में बहुत कार्य करता है लेकिन हमारे शरीर में इसका मुख्य कार्य है आंखों की दृष्टि को बेहतर बनाए रखता है जब  रेटिनोल प्रोटीन के साथ जुड़कर ओप्सिन(opsin) बनाता है। जो कि एक लाइट ऑब्जर्विंग मॉलिक्यूलर(Light observing molecular) है। यह हमें कम रोशनी में देखने के लिए मदद करता है।

  1. आंखों की दृष्टि को बेहतर बनाये रखता है।
  2. कैंसर से बचाव करता है।
  3. हमारे खून में कैल्शियम लेवल को कंट्रोल करता है हड्डियों की सरंचना बनाने में मदद करता है
  4. त्वचा को साफ और सुंदर बनाने में मदद करता है शरीर को संक्रमण से बचाता है क्योंकि यह एक एंटी इंफेक्शन विटामिन है।

विटामिन ए की कमी के कारण,लक्षण-

विटामिन ए की कमी होने के कारण हमारे शरीर में बहुत सारे लक्षण दिखाई देने लगते हैं जैसे –

पलकों पर सूखापन :- पलकों पर विटामिन ए की कमी होने पर पलकों पर सूखापन आ जाता जाता है। पलकों पर सफेद मैल जमा होने लगता है।

रात को कम दिखाई देना :- जी हां, विटामिन ए की कमी से हमें कम रोशनी होने पर देखने में प्रॉब्लम आती है हमें धुंधला दिखाई देने लगता है। आंखों का गोला सूखा दिखाई देने लगता है आंसू ग्रंथियों का काम करना बंद कर देती हैं यह ज्यादा छोटे बच्चों में मिलता है

आंखों के सफेद भाग पर छोटे-छोटे डब्बे :- – आंखों के सफेद भाग पर छोटे छोटे डब्बे दिखाई देने लगते हैं।

शरीर के ढांचे में असंतुलन :- – हमारे शरीर में विटामिन की कमी से शरीर का ढांचा बिगड़ जाता है क्योंकि इसकी कमी के कारण ब्लड में कैल्शियम की कमी हो जाती है

पाचन तंत्र :-  इसकी कमी से हमारा पाचन तंत्र भी खराब हो जाता है और हमें कब्ज जैसी बीमारियों की प्रॉब्लम हो जाती है

विटामिन ए के स्त्रोत – Source Of Vitamin A in Hindi

जैसा की हम जानते है विटामिन दो प्रकार के होते है। एक होता है रेटिनॉल और दूसरा बीटा – कैरोटीन।
रेटिनॉल :- – वो होते है जिनकी उत्पत्ति हम पशुओ द्वारा करते है। जैसे मॉस,मछली,अंडे और डायरी के उत्पादों से।
बीटा-कैरोटीन :- ये वो विटामिन होते है जिन्हे हम पौधो से प्राप्त करते है। जैसे सब्जियां,फल आदि।

[table id=4 /]

[table id=5 /]

Q – विटामिन ए कितना खाना चाहिए या लेना चाहिए। हर रोज

[table id=6 /]

Vitamin A Side Effect In Hindi

विटामिन ए हमारे शरीर के लिए बहुत ही आवश्यक है लेकिन इसकी ज्यादा मात्रा लेने पर शरीर को नुकसान पहुंच सकता है। इसके कुछ साइड इफेक्ट है। जिनको हमें ध्यान में रखकर इसका प्रयोग करना चाहिए। कुछ लोग विटामिन ए को सप्लीमेंट या मल्टीविटमिन मेडिसिन के द्वारा लेते हैं। जो कि आपके शरीर पर इफेक्ट डाल सकता है इसलिए हमें supplement का प्रयोग डॉक्टर की सलाह के बिना नहीं करना चाहिए। इसके साइड इफ़ेक्ट के कुछ मुख्य लक्ष्ण,जैसे

  1. थकान
  2. चिड़चिड़ापन
  3. पेट की परेशानी
  4. मानसिक रोग
  5. अत्यधिक पसीना
  6. उल्टी बुखार आदि दुष्प्रभाव हो सकते हैं

विटामिन ए के बारे में कुछ प्रमुख बाते

  1. हमें विटामिन ए प्राप्त करने के लिए अच्छा भोजन खाना चाहिए ना की सप्लीमेंट या मेडिसिन।
  2. किसी भी प्रकार का सप्लीमेंट या मेडिशन्स लेने से पहले डॉक्टर से सलाह जरूर लें।
  3. हमें अपनी फल और सब्जियों को काटने के बाद धोना ना नहीं चाहिए। इससे विटामिंस की कमी आ जाती हैं। क्योकि वह पानी के साथ बह जाते हैं।
  4. हमें खाना हमेसा ढक कर पकाना चाहिए।
  5. खाने को ज्यादा ताप पर नहीं पकाना चाहिए। इससे भोजन में विटामिन(बीटा- कैरोटीन) कमजोर पड़ जाते हैं

  6. हमें लंबे समय तक खाने को पकाना नहीं चाहिए

Leave a Comment